• Breaking News
    Loading...

    मुख्य संपादक : सुधेन्दु ओझा

    मुख्य कार्यालय : सनातन समाज ट्रस्ट (पंजीकृत), 495/2, द्वितीय तल, गणेश नगर-2, शकरपुर, दिल्ली-110092

    क्षेत्रीय कार्यालय : सी-5, UPSIDC इंडस्ट्रियल एरिया, नैनी, इलाहाबाद-211008, (Call :- 9650799926/9868108713)

    samparkbhashabharati@gmail.com, www.sanatansamaj.in

    (सम-सामयिक विषयों की मासिक पत्रिका, RNI No.-50756)

    Wednesday, 1 March 2017

    संपर्क भाषा भारती के साथ चलें : संवाददाता बनें



    प्रिय पाठकगण,

    संपर्क भाषा भारती के ई-संस्करण की तैयारी लगभग पूरी हो चुकी है। वैबसाइट पर लेखों/चित्रों को लोड करने की बारीकियाँ समझने का प्रयास जारी है।इसी क्रम में पत्रिका का डमी अंक आप सब के समक्ष प्रस्तुत है।

    संपर्क भाषा भारती का संक्षिप्त इतिहास :

     वर्ष 1986 में मैं पत्रकारिता की मुख्य धारा से एक सरकारी उपक्रम से सम्बद्ध हुआ। यहाँ मैंने पत्रिका की परिकल्पना को मूर्त रूप दिया।

    पत्रिका प्रारम्भ करने केलिए एक समिति हिन्दी सर्वप्रिया का गठन किया। भारत सरकार के समाचपत्रों के महापंजीयक से संपर्क भाषा भारती शीर्षक पंजीकृत किया गया।

    पत्रिका के प्रकाशन के लिए माननीय स्वर्गीय देवी लाल, नीलमणि राऊतराय, मेनका गांधी, शरद यादव, अरुण नेहरू, आरिफ मोहम्मद खान, राजीव गाँधी, दिनेश सिंह, अर्जुन सिंह इत्यादि से शुभकामना संदेश प्राप्त हुए।

    पत्रिका ने शीघ्र ही अपना सुचारु प्रकाशन प्रारम्भ कर दिया।

    इधर इन्टरनेट के व्यापक प्रसार उसकी पहुँच को ध्यान में रखते हुए पत्रिका के ई-संस्करण की आवश्यकता लगभग अनिवार्यता में बदल गई।

    इस दिशा में प्रयास किए गए और आज उन प्रयासों का परिणाम हमारे सामने है।

    संपर्क भाषा भारती अपने ई-संस्करण में नए कलेवर के साथ आपके सम्मुख है।

    संपर्क भाषा भारती लेखकों, पत्रकारों के लिए एक उचित मंच बन सके और जन-मानस की अपेक्षाओं को पूरा कर सके ऐसा हमारा भरसक और हर-संभव प्रयास रहेगा।   
    अन्य वेबसाइट की अपेक्षा इस साइट पर पारदर्शिता बनाए रखने केलिए पत्रिका के आय-व्यय को भी प्रदर्शित करने का प्रयास किया जा रहा है।

    संपर्क भाषा भारती की कार्य प्रक्रिया को सरलतमरूप में निम्नवत समझा जा सकता है :
    1. संपर्क भाषा भारतीसम-सामयिक विषयों की मासिक पत्रिका होगी।
    2. संपर्क भाषा भारती को 'सनातन समाज ट्रस्टजो की सरकार से पंजीकृत संस्था है के द्वारा व्यवस्थापित किया जाएगा।
    3. संपर्क भाषा भारतीका समस्त कार्य गैर-लाभकारी कार्य रहेगा। किन्तु यह भी प्रयास रहेगा कि उसके प्रकाशनवेब-डेवलपमेंटसर्वर-स्पेस तथा अन्य व्यय को कुछ हद तक दानसदस्यों के सहयोग के माध्यम से पत्रिका से ही प्रति-पूरित किया जाय। तथा इस प्रकार के आय-व्यय को पत्रिका की वैबसाइट पर प्रदर्शित किया जाय।
    4. संपर्क भाषा भारती के समस्त पदाधिकारी मानार्थ रहेंगेउन्हें इस कार्य केलिए वेतन प्राप्त करने का अधिकार नहीं होगा।
    5. संपर्क भाषा भारती साहित्य लेखन क्षेत्र में समय-समय पर विभिन्न विधाओं यथाकथा/कविता/उपन्यास/यात्रा-वृत्तान्त पर वार्षिक प्रतियोगिता का आयोजन करेगा।
    6. संपर्क भाषा भारती में प्रकाशित लेख/रचनाओं के पुनर्प्रकाशन (पुस्तकाकार) का अधिकार संपर्क भाषा भारती को रहेगा।
    संपर्क भाषा भारती का प्रकाशन/सम्पादन
    1. संपर्क भाषा भारती में राष्ट्र की अखंडता विरोधी कोई लेख प्रकाशित नहीं किया जाएगा।
    2. संपर्क भाषा भारती का मार्ग-निर्देशन संपर्क भाषा भारती-सम्पादनमण्डल द्वारा किया जाएगा। जिसकी कोई निश्चित संख्या तय नहीं है।
    3. पत्रिका के दैनिक क्रियाकलाप को मानार्थ संपादक द्वारा संपादित किया जाएगा।
    4. पत्रिका सुनिश्चित संवाद प्राप्त करने केलिए और अपनी राष्ट्र-हित की विचारधारा को प्रसारित करने केलिए अधिसंख्य में मानार्थ/अवैतनिक संवाददाताओं की नियुक्ति कर सकती है तथा उन्हें प्रेस-संबन्धित पहचान पत्र जारी कर सकती है।
    5. संपर्क भाषा भारती पत्रिका के संवाददाता बनने की सर्वप्रथम आवश्यकता यह है कि (क) प्रार्थी के विरुद्धह कोई आपराधिक पुलिस का मामला न हो। (ख) वह अखंड-भारत की प्रभुसत्ता में अनिवार्यतः विश्वास रखते हों। (ग) हिन्दी भाषा में रिपोर्ट इत्यादि अच्छी तरह से लिख सकते हों। वे अपने आवेदन के साथ वह अपने आधार तथा मत-दाता पहचान पत्र की छाया प्रति उपलब्ध कराएंगे। प्रारम्भ में संवाददाता की नियुक्ति छः मास केलिए की जाएगीजिसे छः मास से बढ़ा कर एक वर्ष किया जा सकेगा। प्रत्येक संवाददाता को वर्षांत पर इसका नवीकरण करवाना पड़ेगा।
    6. संवाददाता नियुक्त होने के पश्चात ही उनकी एक ई-मेल आईडी को लेख इत्यादि भेजने केलिए स्वीकृत किया जाएगा जिस के माध्यम से वे अपने लेख/रिपोर्ताज इत्यादि संपर्क भाषा भारती केलिए भेज सकेंगे।
    7. संपर्क भाषा भारती में प्रकाशित होने वाले सभी लेखों के अंत में : "यह लेख मौलिक एवं अप्रकाशित है।" अवश्य घोषित किया जाएऐसा न करने पर लेख को पत्रिका में स्वीकृत नहीं किया जाएगा।
    8. संपर्क भाषा भारती के संवाददाता बनने के लिए कृपया हमारी इस ई-मेल पर आवश्यक विवरण और कागजात के साथ आवेदन करें : samparkbhashabharati@gmail.com
    9. लेख में प्रकाशित विचारों से संपर्क भाषा भारती प्रकाशन मण्डल/संपादक इत्यादि का सहमत होना आवश्यक नहीं है। लेख में व्यक्त विचार लेखक के हैं।




    No comments:

    Post a Comment